अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस 2018 निबंध, इतिहास & कार्यक्रम की जानकारी हिंदी में

By | November 16, 2017

अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस 2018 निबंध, इतिहास- इस पेज मे अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस के बारे मे जानकारी शेयर की गई जैसे योग दिवस पर निबंध लेखन, अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस 2018 का कार्यक्रम, योग से होने वाले फ़ायदे

अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस पर निबंध हिंदी में “आज का जीवन में योग का महत्व”

योग हमारे जीवन को सरल बनता है आज के समय मे लोगो का जीवन बहुत ही व्यस्त हो गया है | ज़्यादातर लोग अपने स्वास्थ्य पर ध्यान नही देते है और बस पैसे कमाने की दोड़ मे लगे हुए है | इस भागदोड़ भरी जिंदगी मे लोग तनाव, मोटापा और कई बीमारियो से पीड़ित है | जिंदकी मे पैसा महत्वपूर्ण है पर इतना भी नही की बुडापे मे पैसा तो है पर शरीर साथ नही दे रहा है | तब आपको लगेगा की क्या काम का ये पैसा | हमेशा अपने शरीर का ध्यान ज़रूर रखे | आप देखते है कि आपके परिवार, रिस्त्ेदारो या दोस्तो मे ज़्यादातर लोग ओवरवेट है (बॉडी मास इंडेक्स जिसे बीमाई भी कहते है उसके का मतलब यह है कि आपका वजन आपकी लंबाई और उम्र के अनुसार एक निर्धारित रेंज मे होता है अगर आपका वजन बीमाई के अनुसार है तो आप ओवेरवेट कहलाते है ) |

भारत एक खेती प्रधान देश रहा है तो पहले ज़्यादातर लोग खेती करते थे या यू मान ले की मशीने कम थी तो ज़्यादातर काम लोगो को खुद ही करना पड़ता था और उस समय लोग ज़्यादातर स्वस्थ थे और बहुत कम लोग ही ओवेरवेट होते थे क्योकि सबकी रोज़काम मे श्रम ज़रूर शामिल होता है | पर आजकल सबकुछ बदल गया है और बदलता ही जा रहा है | लोगो का शहरो की तरफ पलायन हो रहा है | दैनिक जीवन श्रम का तो अभाव सा ही हो गया है ज़्यादा से ज़्यादा सुख सुविधाओ पर ज़ोर दिया जा रहा है |

हमारे जीवन मे पाश्चिमी देशो की संस्क्रती का असर हो रहा है फास्ट फुड इस पहल मे सबसे आगे है | पिज़्ज़ा, बर्गर, तले हुए पदार्थ युवाओ की पहली पसंद बने हुए है | जब आप मीठा या ज़्यादा तेल वसा वाला खानपान खाते है तो उसे पचाने के लिए शारीरिक श्रम की ज़रूरत होती है | जो हमारे जीवन मे बहुत कम है या न के बराबर है | अगर आप रोज़ाना योग करते है तो आपको तनाव और कई बीमारियो से छुटकारा मिल जाएगा | भारत की खोज योग बहुत ही प्रभावी है लगातार योग करने से असाध्य बीमारी भी सही हो जाती है | आज जीवन मे आपको योग को एक दैनिक कार्यक्रम मे शामिल कर लेना चाहिए | रोज़ कम से कम 20 30 Minutes योग ज़रूर करे | इस से आप फ्रेश भी महसूस करेंगे |

अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस International Yoga Day Logo in Hindi

अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस International Yoga Day Logo in Hindi

अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस का इतिहास –

(International Yoga Day History)

इस साल 21 जून 2018 को 4th अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस दिवस मनाया जाएगा | योग की खोज भारत मे हुई थी | भारत के ऋषि मुनि हज़ारो साल पहले योग करते थे | योग का उल्लेख ऋग्वेद और शास्त्रो मे किया गया है | बाबा रामदेव को योग गुरु माना जाता है | भारत और पूरी दुनिया मे योग को पहुचाने मे बाबा रामदेव का बहुत बड़ा योगदान है और स्वामी बाबा रामदेव आज भी योग को लोगो तक पहुचाने मे लगे हुए है | 27 सितंबर 2014 को युनाइटेड नेशन (सयुक्त राष्ट्र संध) की सभा मे 21 जून को अंतराष्ट्रीय योग दिवस मानने की घोषणा हुई थी | उस सभा मे 193 देशो ने भाग लिया था और ज़्यादातर देशो ने योग का समर्थन किया था | फिर 21 जून 2015 को पूरी दुनिया मे पहला अंतराष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया था | भारत मे इसका मुख्य आयोजन नई दिल्ली मे किया था | जिसमे प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई राज नेताओ, फिल्मी सितारो के साथ हज़ारो लोगो ने राजपथ पर योग किया था | अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस का सीधा प्रसारण दूरदर्शन और आयुष मंत्रालय की योग की वेबसाइट पर किया गया था |

योग के करने फ़ायदे

(Benefit of Yoga)

आम जीवन के एक भाग योग भी होना चाहिए | योग करने से आपको बहुत फ़ायदा मिलेगा | अगर आप नियमित और सही दिशा मे योग करते है तो आपको चमत्कारिक फ़ायदा या बदलाव देखने को मिल सकता है | योग को हमेशा सही दिशा मे करना चाहिए क्योकि ग़लत आसन करने से शरीर मे विपरीत प्रभाव भी हो सकता है | अगर आप किसी बीमारी से पीड़ित हो तो आपको योग अपने डॉक्टर या योग गुरु की सलाह और निर्देशन मे ही करना चाहिए |

  • वजन कम होता है और नियंत्रण किया जा सकता है – अगर आप रोज़ सूर्य नमस्कार करते है तो आपका वजन कम होगा और आपके शरीर मे लचीलापन आता है | अगर आपको वजन कम या ज़्यादा करना है तो आप कोई योग क्लास मे भाग ले या अगर एसा नही कर सकते तो यू ट्यूब से योग के वीडियो डाउनलोड करके उन्हे देख कर सकते है |
  • आपका शरीर स्वस्थ रहता है और आप उर्जावान बने रहते हो |
  • योग करने से मानशिक तनाव दूर होता है | आपके दिमाग़ अच्छा काम करता है
  • योग करने से पाचन तंत्र मजबूत होता है तो गेस या अपच जैसी दिकते दूर हो जाती है
  • योग करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ती है
  • योग करने से शरीर मे लचीनपन आता है और तंदुरुस्ती बनी रहती है
  • योग करके आप अपने बढ़े हुए पेट को कम कर सकते है |
  • योग करने से मॅन को शांति मिलती है – चित शांत होने पर आपको यादास्त बढ़ती है
  • आपकी उम्र कम दिखने लग जाएगी अगर आप लगातार योग करते हो तो |

दूसरा अंतराष्ट्रीय योग दिवस – 21 जून 2018 चंडीगढ़ –

(2nd International Yoga Day 21 June 2018 will be celebrated in Chandigarh)

दूसरा योग दिवस 21 जून को पूरी दुनिया मे मनाया जाएगा | भारत मे योग दिवस का मुख्य आयोजन पंजाब और हरयाणा की राजधानी और केंद्र शासित प्रदेश चंडीगढ़ मे किया जाएगा | इस कार्यक्रम मे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ कई बड़ी राजनेतिक और फिल्मी हस्तिया भाग लेगी | इस कार्यक्रम के अलावा पूरे भारत मे योग दिवस मनाया जाएगा | सभी सरकारी स्कूलो मे योग दिवस मानाना अनिवार्य है | इसके अलावा सभी राज्यो मे राजधानी के अलावा लगभग सारे जिला मुख्यालय पर योग दिवस को मनाया जाएगा |

हमारा भी आप से यही निवेदन है कि अंतर्राष्‍ट्रीय योग दिवस को ज़रूर मनाए – योग को किसी जाति, धर्म से ना जोड़े | योग आपके शरीर को स्वस्थ करता है तो अपने स्वास्थ्य के लिए योग ज़रूर करे |

अगर आपको हमारा ये आर्टिकल पसंद आया तो नीचे कमेंट मे अपने राय ज़रूर दे | अपने दोस्तो के साथ इस आर्टिकल को फ़ेसबुक वाट्सॅप पर शेयर ज़रूर करे |